राम भक्त हनुमान को क्यों अर्पित किया जाता है सिंदुर, जाने कैसे

5

हिन्दू धर्म में सिंदुर को काफी महत्वपूर्ण माना जाता है। सिंदुर को मंगलकारी माना जाता है। राम भक्त हनुमान को भी सिंदुर बहुत प्रिय है। मंगलवार को मंगलमूर्ति की उपासना के लिए सबसे मंगलकारी माना जाता है।

मान्यता है कि इस दिन हनुमान जी को प्रसन्न करना सबसे आसान होता है। राम भक्त को प्रसन्न करने के लिए सिंदुर अर्पित करना सबसे उत्तम उपाय है। आखिर भगवान हनुमान को सिंदुर क्यों पसंद है और क्यों उन्हें सिंदुर अर्पित किया जाता है। इस लेख के माध्यम से हम इसकी जानकारी दे रहे है।



सिंदुर का महत्व

हिन्दू धर्म में भी सिंदुर को बहुत महत्व दिया जाता है। भारतीय परंपरा के अनुसार सिंदुर किसी भी सुहाग के माथे का ताज माना जाता है। सिंदुर का प्रयोग दाम्पत्य जीवन की खुशहाली के लिए भी किया जाता है। कहते है सिंदूर मुख्यतः नारंगी रंग का होता है। महिलाएं इसे सौभाग्य और श्रृंगार के लिए प्रयोग करती है। बिना सिंदुर के विवाह की कल्पना भी नहीं की जा सकती है। इसको मंगल ग्रह से जोड़ा जाता है। इसलिए इसे मंगलकारी माना जाता है।

यह है पौराणिक कथा

श्री रामचरित मानस के मुताबिक एक बार हनुमानजी ने माता सीता को मांग में सिंदूर लगाते हुए देखा। तब उनके मन में जिज्ञासा जागी कि माता मांग में सिंदूर क्यों लगाती है, यह सवाल उन्होंने माता सीता से पूछा।

इसके जवाब में सीता ने कहा कि वे अपने स्वामी, पति श्रीराम की लंबी उम्र और स्वस्थ्य जीवन की कामना के लिए मांग में सिंदूर लगाती है। शास्त्रों के अनुसार सुहागन स्त्री मांग में सिंदूर लगाती है तो उसके पति की आयु बढ़ती है और वह हमेशा स्वस्थ्य रहते है।

माता सीता का उत्तर सुनकर हनुमानजी ने सोचा कि थोडा सा सिंदूर लगाने का इतना लाभ होता है तो वे पूरे शरीर पर सिंदूर लगाएंगे। इससे उनके स्वामी श्रीराम हमेशा के लिए अमर हो जाएंगे।

यही सोचकर उन्होंने पूरे शरीर पर सिंदूर लगाना शुरु कर दिया। हनुमान जी पूरे शरीर पर सिंदूर पोतकर श्रीराम के सामने सभा में प्रस्तुत हो गए।

हनुमान जी का प्रेम देखकर श्री राम बहुत प्रसन्न हुए। अपने आराध्य को प्रसन्न देखकर हनुमानजी को सीता जी की बातों पर विश्वास हो गया। तभी से बजरंग बली को सिंदूर चढाने की परंपरा शुरु हुई।

मंगलवार को करे अर्पित

हनुमानजी को प्रसन्न करना है तो उन्हें मंगलवार के दिन ही पूजा करते हुए सिंदूर अर्पित करना चाहिए। इससे राम भक्त हनुमान भक्तों से प्रसन्न हो जाते है और आर्शीवाद प्रदान करते है।

5 COMMENTS

  1. 🙏श्री राम भक्त हनुमान की जय🙏

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here