जो प्रभु के चरणों में आएगा उसके सारे दुख-दर्द दूर हो जाते हैं-संत साई कृष्ण दास

0

बिलासपुर.बाबा आनंद राम दरबार चकरभाटा के संत साईं कृष्ण दास जी के द्वारा कार्तिक माह महा में धन गुरुनानक दरबार जराहाभाटा सिंधी कॉलोनी बिलासपुर स्थित दरबार में सत्संग एवं कीर्तन का आयोजन किया गया।

सत्संग रात्रि 8 बजे आरंभ हुआ जिसका समापन 10 बजे हुआ । साईं जी ने अपनी अमृतवाणी में सत्संग की शुरुआत गुरुवाणी से की उसके पास सत्संग में साइ ने गुरुनानक देव जी एवं गुरुओं के जीवन में के बारे में प्रकाश डाला।

उन्होंने कहा कि जो भी प्रभु गुरु के चरणों में अपने आपको सच्चे मन से अर्पण कर देता है गुरु एवं प्रभु उसके सारे दुख-दर्द हर लेते हैं अपने भक्तों को कभी भी तकलीफ होने नहीं देते हैं

भगवान आपके अंदर में है बस जरूरत है सच्चे मन से भक्ति करें और सिमरन करें तो भगवान का आप साक्षात दर्शन कर सकते हैं । उसके लिए आपको भक्ति वाली नेत्र की जरूरत है कार्तिक मास आरंभ हो चुका है ।

इस पावन महा में इस गुरु के दरबार में आप सब भाग्यशाली हैं जो यहां आए हैं और सत्संग कीर्तन का रसपान कर रहे हैं दुनिया में सब कुछ खरीद सकते हो पर सत्संग कीर्तन हो प्रभु की भक्ति को नहीं खरीद सकते उसे आपको कमाना है ,

कैसे सच्चे मन से सच्ची लगन से सिमरन भक्ति एवं सेवा से आप इस लोक को एवं परलोग को भी सवार सकते हैं। गुरु नाम है जहाज का जो चढ़े सो उतरे पारसाईं जी ने अपने अमृतवाणी में कई गुरु के भजन भी गाए

भक्तजन भजन सुनकर भाव विभोर हो गए । भाई कुंदन एवं पुत्र यश डोड़वानी के द्वारा भी गुरुवाणी गा कर संगत को निहाल किया । भाई कुंदन ने कहा गुरु के चरणों में आकर अपने दुख-दर्द को गुरु को सौंप दीजिए ।

वही तारणहार है, वही पालनहार है , वही आपकी नाव को पार लगाएंगे । कार्यक्रम के आखिर में अरदास की गई । विश्व कल्याण प्रार्थना की गई । प्रसाद वितरण किया गया गुरु का अटूट लंगर भी बरसाया गया।

सत्संग में शामिल होने के लिए बिलासपुर चकरभाटा व आसपास के जगह से भक्तजन पहुंचे ।सत्संग सुनकर अपने आप को धन्य महसूस करने लगे इस कार्यक्रम को सफल बनाने में ।

धन गुरु नानक दरबार के सेवादारी भाई मूलचंद नारवानी ,डॉ . हेमंत कलवानी , राजू धामेचा , भोजराज नारवानी , विक्की नागवानी , नानक रोहरा , चंद्र रोहरा ,विजय दुसेजा, अमित राजवानी , गोविंद दुसेजा , फेरू आडवाणी ,प्रकाश चावला ,कृपा सिदारा

,अनीता मूलचंदानी ,पलक मखीजा ,सुमन गुरबाणी ,दीक्षा नागवानी ,आस्था वाधवानी ,सुरेश वाधवानी ,यश राज सुखीजा ,अर्पिता बाजाज, रेखा आहूजा ,गरिमा शाहनी ,दीपा आहूजा ,सोनम राजवानी एवं अन्य कई लोगों का सहयोग।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here