सिंध के आखिरी सम्राट राजा दाहिर सेन को दी गई श्रंध्दाजली

0

बिलासपुर.भारतीय सिंधु सभा महिला विंग पूज्य सिंधी सेंट्रल महिला विंग के संयुक्त तत्वाधान में सिंधुधाम गुरुद्वारा कश्यप कॉलोनी में सिंध के आखिरी सम्राट राजा दाहिर सेन का 1309 वा बलिदान दिवस मनाया गया कार्यक्रम की शुरुआत भगवान झूलेलाल एवं राजा दाहिर सेन जी के फोटो पर माल्यार्पण कर व दीप प्रज्वलित करके की गई
कार्यक्रम का संचालन भारतीय सिंधु सभा महिला विंग की नगर महामंत्री श्रीमती सोनी बहराणी ने किया।

नगर के साहित्यकार और कवि भाई शत्रुघ्न जेसवानी ने सिंधु सम्राट राजा दाहिर सेन के जीवन के बारे में प्रकाश डाला। भारतीय सिंधु सभा नगर के अध्यक्ष धनराज आहूजा संगठन मंत्री मोहन जेसवानी ने भी अपने विचार व्यक्त किए और कहा कि राजा दाहिर सेन जैसे बहादुर व्यक्ति के नाम पर नगर में संस्था के द्वारा वीर राजा दाहिर सेन पुरस्कार सम्मान समारोह आयोजन करके दिया जाए। समाज के ऐसे लोगों और युवाओं को दिया जाए जिन्होंने वीरता का परिचय दिया हो या वीरता जैसा कोई कार्य किया हो। ऐसे व्यक्ति को वीर राजा दाहिर सेन से सम्मानित किया जाए।

भारतीय सिंधु सभा के प्रचार मंत्री जगदीश जज्ञासी ने अपने विचार व्यक्त करते हुए कहा की हिंद के और हमारे समाज के अंतिम राजा दाहिर सेन जी की शहादत के बारे में पूरे समाज एवं भारतवर्ष में यह प्रचारित होना चाहिए जिसका एक मात्र साधन हमारे स्कूलों में पढ़ाए जाने वाले पाठ्यक्रमों में भी इनकी शहादत का उल्लेख कर आने वाली पीढ़ी को इस जानकारी से वाकिफ किया जा सकता है। पूज्य सिंधी पंचायत कश्यप कॉलोनी के अध्यक्ष मुरली वाधवानी, विश्व सिंधु सेवा संगम के नगर अध्यक्ष अमर रोहरा ने भी अपने विचार व्यक्त किए, विजय दुसेजा ने भी कहा कि हमें अपने इष्ट देव, संतों एवं देश हित मे किये गये कार्यो के दौरान वीरगति को प्राप्त हुवे शहीदों को कभी भुलाना नही चाहिए।

पूज्य सिंधी सेंट्रल पंचायत महिला विंग की नगर अध्यक्ष सुनीता खत्री ने कहा हमें अपने संविधान को अपना अधिकारों को जानना चाहिए व अपने संत महात्मा व वीर शहीदों के बारे में भी जानकारी रखनी चाहिये अपने बच्चों को भी जानकारी देनी चाहिए। घर के काम काज के साथ-साथ इस ओर ध्यान देना चाहिए सरकार से मांग करेंगे के स्कूल के पाठ्य पुस्तकों में सिंधु सम्राट राजा दाहिर सेन का इतिहास शामिल हो इस अवसर पर भारतीय सिंधु सभा नगर अध्यक्ष श्रीमती कंचन मलघानी ने राजा दाहिर सेन के शहीदी दिवस पर वृक्षारोपण एवं हरी भरी वसुंधरा करने के संकल्प लिया।

संरक्षक कविता मोटवानी एवं नगर की उभरती हुई कवि नेत्री मुस्कान बचानी ने भी अपने विचार व्यक्त किए। कार्यक्रम का आखिर में भारतीय सिंधु सभा का गीत कंचन रोहरा, कीर्ति सिरवानी भारती सचदेव ने गाया। धर्म लाए जीयू पहनजे समाज लाय जियु आभार व्यक्त कीर्ति लालवानी रेशमा ने किया। इस अवसर पर महिला विंग सदस्य कविता मंगवानी, ज्योति पंजाबी, अनु आहूजा, सुमन धीरवानी ,कंचन जेसवानी, चंदा ठाकुर ,रेशमा मोटवानी, पिंकी आहूजा, नीतू खुश्लानी एवं अन्य सदस्य उपस्थित थी। भारतीय सिंधु सभा की राष्ट्रीय महामंत्री श्रीमती वीनीता भावनानी, गरिमा साहनी ,इस कार्यक्रम में सोशल मीडिया के माध्यम से ऑनलाइन जुड़ी।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here