पोषण अभियान के तहत कृषक महिलाओं को दिया जा रहा प्रशिक्षण

0

बिलासपुर. महिला एवं बाल विकास विभाग द्वारा चलाये जा रहे राष्ट्रीय पोषण माह में महिलाओं और बच्चों को पोषक आहार के साथ.साथ कोविड.19 से बचने के लिए जागरूक किया जा रहा है।

इसी क्रम में कृषि वैज्ञानिकों ने कृषक महिलाओं के लिए पोषण संवेदी कृषि संसाधन व पोषण कार्यक्रम आयोजित किया। इस कार्यक्रम में कृषक महिलाओं को पोषण और कोविड.19 के संक्रमण से बचाव के बारे में जानकारी दी जा रही है।

इसके लिए अलग.अलग क्षेत्रों में एक कार्यक्रम आयोजित कर वहां खेती किसानी से जुड़ी हुई महिलाओं को इकट्ठा कर उन्हें पोषण स्तर में सुधार, पोषण वाटिका और पोषण थाली के बारे में जानकारी दी जा रही है।

इस दौरान उनके महिला कृषकों को सब्जी के बीजों की किट भी बांटी जा रही है। यह कार्यक्रम भी राष्ट्रीय पोषण माह के तहत 30 सितंबर तक चलाया जायेगा।

कृषक महिलाओं को प्रशिण देने वाले वरिष्ठ वैज्ञानिक डॉ.एस.पी. सिंह ने बताया उनके द्वारा पोषण माह में अलग.अलग क्षेत्रों में कार्यक्रम आयोजित किया जाते हैं। इसमें कार्यक्रम में मौजूद महिलाओं व उनके साथ आने वाले बड़े, बच्चे और किशोरियों को

स्वच्छता व स्वास्थ्य की जानकारी दी जाती है। उन्हें जल में घुलनशील विटामिन और वसा में घुलनशील विटामिन के स्रोतों की भी जानकारी दी जाती है। कृषि वैज्ञानिक शिल्पा कौशिक भी महिलाओं के साथ चर्चा करती हैं उन्हें पोषण थाली और उसके महत्व बताया जाता है।

कृषक महिलाओं को बताया जाता है कि किस तरह से पोषण वाटिका को तैयार किया जाए जिससे वह वहां साल भर तक पौष्टिकता प्रदान करने वाली पोषकसब्जियां पैदा कर सकें। इसके लिए किस तरह बीजोपचार किया जाता है

उसके साथ ही बायो फर्टिफाईड धान, गेंहू, सब्जी व फल की अलग.अलग किस्मों के बारे में भी जानकारी दी जाती है। कार्यक्रम में कृषक महिलाओं को बताया जाता है कि उनके द्वारा कड़ी मेहनत तो की जाती है

लेकिन पौष्टिक भोजन नहीं लिया जाता है इससे उनके शरीर की रोग प्रतिरोधक क्षमता कम हो जाती है। यदि वह पौष्टिक आहार लेती हैं और साफ सफाई का पूरा ध्यान रखती हैं

तो कोरोना जैसी महामारी के संक्रमण से भी वह बची रहेंगी। इसके साथ ही इससे बच्चों को डायरिया व एनीमिया जैसी बीमारियों से बचाया जा सकता है। कोरोना संक्रमण से बचाव को लेकर दी जा रही जानकारी ।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here