व्यंकटेश मंदिर में रंगोली से तैयार किया गया भगवान राम के विग्रह का प्रस्तावित रूप

0

बिलासपुर भगवान श्री राम के दिव्य, भव्य और अलौकिक मंदिर निर्माण हेतु भूमि पूजन तथा कार्यारंभ के महामहोत्सव के उपलक्ष्य में श्री वेंकटेश मंदिर में रंगोली द्वारा भगवान श्री राम के विग्रह का प्रस्तावित मंदिर के प्रारूप का सजीव त्रिआयामी चित्रांकन प्रातः काल से किया गया। प्रमुख रूप से राजू कौशिक के द्वारा रांगोली सजाई गई।

इसमें श्याम वर्ण, सक्षम दुबे एवं ऐश्वर्य वेंकटेश ने सहयोग किया । मंदिर के मठाधीश डाॅ कौशलेन्द्र प्रपन्नाचार्य ने बताया कि प्रातः काल भगवान को नूतन वस्त्र धारण कराए गए। भगवान का अलौकिक श्रृंगार किया गया ।इस कार्य को पुजारी सत्यम शुक्ला वा मनीष दुबे ने संपादित किया । भगवान को पुष्पालंकार से सुशोभित किया गया ।

इसकी सेवा घनश्याम दास वा प्रांसू तिवारी ने विविध पुष्पों को चुन कर सुंदर मालाओं का निर्माण कर भगवान को समर्पित किया। शिव तिवारी ने मंत्रोचार और सुंदरकांड का पाठ किया । मंदिर स्थल की सुंदर वा नयनाभिराम सज्जा की गई ।

रंग-बिरंगे विद्युत झालरों से मंदिर का सौन्दर्य अप्रतिम दिखाई पड़ रहा था ।अनगिनत दीपों के द्वारा मंदिर को प्रकाशित किया गया । दीपों के प्रकाश से सम्पूर्ण मंदिर प्रांगण आलौकित हो गया । इस अवसर पर हेमन्त गौतम, डॉ पूनम त्रिपाठी ने भोग प्रसाद की व्यवस्था की ।

सेवादार गोपालकृष्ण रामानुजदास ने आतिशबाजी कर जनमानस के हर्षोल्लास का प्रगटीकरण किया। प्रातः से रात्रि परियंत इस शुभ वेला में भक्तों वा सेवादारों द्वारा गायन वादन से गरिमामय, अविस्मरणीय वा दिव्यता से ओत.प्रोत कर दिया ।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here