सामाजिक संस्था सेवा एक नई पहल ने की आपरेशन में मदद

0

चकरभाटा के पास स्थित ग्राम कुआं से रोजी रोटी की आस में आए जगदीश विश्वकर्मा जी देवरीखुर्द में किराए के मकान में रह कर वेल्डिंग कार्य कर गुजर बसर करते थे कोरोना संक्रमण की विभीषिका में अन्य मध्यम वर्ग की तरह जगदीश का छोटा सा काम भी चौपट कर दिया ले देकर 100 या 50 रुपए आ भी जाएं तो पेट भरे की किराया पटाए अभी यह समस्या दरपेश ही थी कि होनी ने एक और मुसीबत दे दी ।

शारीरिक मेहनत कर गुजर बसर करने वाले जगदीश की पीठ के नीचे एक घाव सा हो गया जो ठीक होने का नाम ही नहीं ले रहा था और ठीक से बैठते भी नही बन रहा था ।जगदीश की इस समस्या की जानकारी किसी माध्यम से बिल्हा क्षेत्र के वरिष्ठ समाजसेवी जसबीर चावला जी को मिली – जसबीर चावला ने अपनी संस्था सेवा एक नई पहल के संयोजक सतराम जेठमलानी से आग्रह किया कि जगदीश जी की यथा संभव मदद की जाय । पेशेंट के हालात को देख दीदी रेखा आहुजा ने शहर के निजी चिकित्सालय वेगस हॉस्पिटल के डा ब्रजेश पटेल व डा तृप्ति जी से मदद का निवेदन किया ।

घाव की स्थिति देख डा ब्रजेश जी ने तुरंत आप्रेशन की सलाह दी मरीज़ की आर्थिक स्थिति कमजोर होने के कारण संस्था ने मदद को हाथ आगे बढाया और सफल आपरेशन के पश्चात 5 दिन हॉस्पिटल में स्वास्थ्य लाभ लेकर अब अपने घर में विश्राम कर रहे है इलाज के समय सहयोग कर रहे पेशेंट के भांजे नवीन विश्वकर्मा ने मदद के लिए संस्था व डॉक्टर साहब के प्रति आभार व्यक्त किया । समाज सेवी जसवीर चावला ने कहा कि वर्तमान परिस्थितियों ने मध्यम वर्ग को बुरी तरह जकड़ा है यह वर्ग संकोच वश अपनी व्यथा व्यक्त भी नही कर पाता और परेशानियां बढ़ती जाती है भला हो नई पहल जैसी संस्थाओं और रेखा दीदी जैसे समर्पित समाज सेवीयो का जो खबर मिलते ही बिना अपना पराया , ऊंच नीच , जाति वर्ग या समाज भेद के सिर्फ और सिर्फ सेवा के मकसद लिए जूझ जाते है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here