सिंधी समाज ने किया दो प्रतिभाओं का सम्मान

0

बिलासपुर.आज सिंधी समाज के दो प्रतिभाओं का सम्मान किया गया। विभिन्न समाज सेवी संस्थाओ से जुड़ी समाज की नारी शक्ति को जाग्रत एवं संगठित करने मे अहम योगदान देने वाली भारतीय सिंधु सभा की नव नियुक्त राष्ट्रीय महामंत्री विनीता भावनानी का संत सांई लालदास जी ने शाल भेंट कर आशीर्वाद रूपी सम्मान किया एवं श्री झूलेलाल सेवा सखी सहेली सदस्यों द्वारा पुष्पगुच्छ से स्वागत किया।

धर्म नगरी चकरभाटा स्थित श्री झूलेलाल मंदिर में आयोजित एक धार्मिक कार्यक्रम के दौरान नगर के एक प्रतिभावान परसरामानी को भी श्री सिंधु अमरनाथ आश्रम के पीठाधीश सांई जी ने शाल एवं पुष्पाहार से सम्मानित किया। पूज्य सिंधी पंचायत के अध्यक्ष प्रकाश जेसवानी ने राष्ट्रीय महामंत्री का परिचय दिया।

इस अवसर पर साईं जी ने कहा अनेक वाद्म यंत्रों मे सारंगी अपने आप में एक कठिन यंत्र है। संत कंवर राम साहिब भी सारंगी वादन करते थे सारंगी उनका प्रिय वाद्म यंत्र थाण्और हमे गर्व है कि ऐसे होनहार कलाकार हमारे समाज से है। हमारे नगर के है। ज्ञात रहे कि परसरामानी जो कि भारतीय स्टेट बैंक मे सहायक प्रबंधक पद पर सेवारत है उन्होंने सारंगी वादन में वल्ड रिकॉर्ड कायम कर शोहरत हासिल की है

जिसके लिए इन्हें प्रमाण पत्र एवं मेडल दिया गया है जिसे संत साईं जी के कर कमलों से ग्रहण किया। मूल निवास दल्ली राजहरा निवासी परसरामानी ने कहा कि धीरे-धीरे विलुप्त हो रहे इस यंत्र को निशुल्क सिखाने के सदैव ही तत्पर रहेंगे। विनीता भावनानी ने उनका परिचय देते हुए कहा कि हमें इनसे प्रेरणा लेना चाहिए कि प्राचीन सभ्यता के सारंगी जैसे वाद्म यंत्र को जीवित रखने का जो प्रयास इन्होंने किया है वह वास्तव में सरहनीय है।

इस अवसर पर राष्ट्रीय महामंत्री ने बेड़िय वारा अदाड़े मुहांणा लाल दे॒ थी वन्या भजन गा कर उपस्तिथ श्रद्धालुओं का मन मोह लिया तथा जगदीश जज्ञासी भाई साहब ने भी सांसों का क्या भरोसा रूक जाए चलते चलते। सुंदर भजन की प्रस्तुति दी। उक्त का कार्यक्रम में अनिल पंजवानी, रवि, पिंटू, प्रकाश भाई, गौरव आदि अनेक श्रद्धालु गण उपस्थित थे

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here