सेवा एक नई पहल ने जरूरतमंद गांव के बच्चो को शिक्षण सामग्री का किया वितरण

0

सामाजिक संस्था सेवा एक नई पहल प्रतिवर्ष जुलाई माह को शाला प्रवेश उत्सव के रुप में मनाती है और शहरी कोलाहल से दूर किसी चुने हुए आदिवासी अंचल के किसी शांत द्वीप सरीखे गांव में वहां के शिक्षक पंच सरपंच को विश्वास में लेकर प्रत्येक परिवार के बच्चों को शाला जानें हेतु प्रेरित करने का प्रयास करती है। इसी जागरूकता अभियान के अंतर्गत बेलगहना के पास स्थित ग्राम रानी बछाली में शिक्षारत बच्चो के लिए नि:शुल्क कापी , किताब , पेन , पहाड़ा , कम्पास छोटे छोटे बच्चो के लिए ढेर सारे खिलौने बड़े बच्चो के लिए बालीबाल , बेट बाल , बैडमिंटन , कैरम बोर्ड व सयाने उम्र वालो के लिए लुडो का वितरण किया गया।

कार्यक्रम में आए हुए खेतिहर मजदूरों को बरसात से बचाव हेतु प्लास्टिक की बरसाती , किसानों को लुंगी , माताओं को साड़ियां , और युवतियों को सलवार सूट , नन्हीं बालिकाओ के लिए फ्राक , युवाओं के लिए टी शर्ट व लोवर तथा शर्ट पैंट के साथ एक अभाव ग्रस्त परिवार को दो माह का राशन व बर्तन भेट किए गए। कार्यक्रम को संबोधित करते हुए संस्था की संयोजक रेखा आहूजा जी ने कहां की हमारा उद्वेश्य भौतिक वस्तुओं का वितरण मात्र नही अपितु कोई बच्चा या परिवार शिक्षा की मूलभूत सुविधाओं से अर्थाभाव में वंचित न रह जाएं यह विनम्र प्रयास है ।

इस गरिमामय समारोह में राम नरेश साहू , शशि अग्रवाल , रेणु गौतम , मुकेश पमनानी , मनोज सरवानी , राजेश खरे , पूनम अचंतानी , गीता चंदानी व अंजू लाल तथा रेखा आहुजा का सराहनीय सहयोग रहा । समारोह समापन पर स्कूल समन्वयक नारायण नायक जी ने ग्राम के सहयोगी पंच विष्णु कैवर्त , आर्ट ऑफ लिविंग के प्रशिक्षक हेमन्त गुप्ता व संस्था के संयोजक सतराम जेठमलानी के प्रति आभार व्यक्त किया।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here