अपनों को याद करते हुए मानव सेवा करते हुए भोजन का कर रहे वितरण

कोरोना काल की विपरीत परिस्थितियों में मानव मन पर बहुत गहरा प्रभाव डाला है, जीवन भर के जतन से कमाई हुई अपनी जायदाद बडी-बडी शॉप, ऑफिस आदि को महीनों एक झलक देखने तक को नज़रे तरस गई। वहीं कई परिवारों ने असमय अपने प्रियजनों को अपने से बिछड़ते हुए असहाय हो देखा सारे जतन कर लिए, पर प्रभु की मर्जी के आगे किसका जोर चला है,

पर इन असामान्य स्थितियों ने मानव की सोच में गहरा बदलाव ला दिया है। इसी सोच का अनुशरण करते हुए सिंधी समाज के वरिष्ठ समाज सेवी सच्चा नंद मंगलानी जी ने अपनी माता इंदिरा देवी मंगलानी की तेरहवीं पर उनकी आत्मिक शांति के लिए हंगर फ्री बिलासपुर के माध्यम से रेल्वे स्टेशन के आस-पास के जरूरतमंद लोगो को भोजन व चकरभाटा के सक्रिय समाज सेवी सुनील कलवानी ने अपनी धर्मपत्नी किरन कलवानी की आत्मिक शांति हेतु

बिलासपुर पुराना बस स्टैंड के पास भोजन वितरीत किया। इस प्रकार बदली हुई सोच से वर्तमान परिस्थितियों में 200 से अधिक लोगो की क्षुधा शांति और परिजनों को असीमित दुआएं मिली। इस नेक कार्य में हंगर फ्री बिलासपुर के एक्टिव सदस्य सतराम जेठमलानी, संगम सोनी तथा चंदर मंगतानी व सामाजिक सदस्य उपस्थित रहे।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here