राहु ने बदली है अपनी चाल, पड़ेगा सभी पर प्रभाव, जाने सभी राशियों के प्रभाव

0

राहु ने पिछले 23 सितंबर को मिथुन राशि को छोड़कर वृषभ राशि में प्रवेश किया है। वहीं केतु भी धनु राशि से वृश्चिक राशि में प्रवेश कर चुके है। राहु को ज्योतिष शास्त्र में शनि के समान व केतु को मंगल के समान स्वभाव वाला ग्रह माना गया है।

छाया ग्रह होने के कारण राहु-केतु जिस भाव में, जिस भावेश के साथ होते है उसी के अनुरूप फलित करते है। नैसर्गिक रूप से राहु का स्वभाव पृथकता जनक और केतु का स्वभाव आक्रामक व मारणात्मक होता है।

राहु-केतु का यह राशि परिवर्तन देश के लिए प्रतिकूल परिस्थितियां उत्पन्न करने वाला रहेगा। ज्योतिषाचार्यों के मुताबिक देश में महंगाई और बेरोजगारी बढ़ेगी।

सरकार के प्रति जनाक्रोश उत्पन्न होगा। पड़ोसी देशों से रिश्तों में दरार आएगी। सीमा पर तनाव बढ़ेगा। इसका आम जनमानस पर भी प्रभाव पड़ेगा।

मेष-इस राशि वाले जातकों को राहु-केतु के गोचर अनुसार धन की अकस्मात हानि होगी। पारिवारिक सुख की हानि व कुटुंबीजनों से विवाद होगा। विद्यार्थियों की पढ़ाई में अरूचि होगी। शत्रुपक्ष हावी होगा। नेत्र व गुदा रोग के कारण कष्ट होगा। विदेश यात्रा होने की संभावना बनेगी।

वृषभ-वृषभ राशि वाले जातकों को राहु-केतु के गोचर अनुसार मान-सम्मान व सामाजिक प्रतिष्ठा में वृद्धि होगी। धन लाभ होगा। पुत्र जन्म की संभावना बनेगी। पुत्र का भाग्योदय होगा। शारीरिक चोट के कारण मानसिक कष्ट रहेगा।

मिथुन-इस राशि वाले जातकों को राहु-केतु के गोचर अनुसार धन हानि होने के येाग है। व्यय में अधिकता होगी। परिवार व घर से दूर निवास की संभावना बनेगी। सुख का अभाव होगा। विवाद के कारण बंधन व राजदंड की संभावना बनेगी। मन में अवसाद रहेगा।

कर्क-इस राशि के जातकों को राहु-केतु के गोचर अनुसार धार्मिक कार्यों में रूचि बढ़ेगी। दान-पुण्य की प्रवृत्ति बढ़ेगी। धन लाभ में कमी आएगी। मित्रों से कष्ट होगा। पुत्र से कष्ट होगा। पुत्र के भाग्य की हानि एवं पुत्र को कष्ट होगा।

सिंह-इस राशि वाले जातकों को राहु-केतु के गोचर अनुसार धन लाभ होगा। तीर्थयात्राएं होंगी। मनोवांछित कार्य सफल होने के योग है। मान-प्रतिष्ठा बढ़ेगी। अचल संपत्ति की प्राप्ति होगी। मन प्रसन्न रहेगा। शत्रु पराजित होंगे।

कन्या-इस राशि वाले जातकों को राहु-केतु के गोचर अनुसार आशातीत लाभ होगा। मित्र सहायक होंगे। राज्य से लाभ होगा। धन लाभ होगा। भाग्योदय होगा। शत्रु पराजित होंगे। मन प्रसन्न व आनंदित रहेगा। धार्मिक कार्यों में रूचि बढ़ेगी।

तुला-इस राशि के जातकों को धन लाभ होगा। विदेश यात्राएं होंगी। अचल संपत्ति की प्राप्ति होगी। पदोन्नति होगी। कार्यक्षेत्र में प्रभाव बढ़ेगा। रोग की उत्पत्ति के कारण शारीरिक व मानसिक कष्ट होगा।

वृश्चिक- इस राशि के जातकों को राहु केतु के गोचर के मुताबिक व्यापार-व्यवसाय में उन्नति होगी। आर्थिक लाभ होगा। यात्राएं लाभदायक रहेंगी। मान-प्रतिष्ठा में बढ़ोत्तरी होगी। शारीरिक चोट के कारण कष्ट होगा। वायु दोश संबंधी रोगों की उत्पत्ति होने की संभावना है।

धनु- इस राशि के जातकों को दीर्घ कालिक रोगों से परेशानी होगी। मान-प्रतिष्ठा भंग होने के आसार है। धन हानि के योग बन रहे है। आय में कमी आएगी। व्यय बढ़ेगा। मन में अत्यधिक अशांति रहेगी। आंखों में कष्ट हो सकता है।

मकर-इस राशि के जातकों को धन-धान्य व ऐश्वर्य में वृद्धि होगी। लाॅटरी व शेयर इत्यादि से लाभ होगा। आय में वृद्धि होगी। धन लाभ होगा। भाग्य का साथ प्राप्त होगा। मित्रों से लाभ होगा।

कुंभ-इस राशि के जातकों को पारिवारिक सुख की हानि के योग बन रहे है। धर से दूर निवास की संभावना बनेगी। धन हानि के योग बन रहे है। मन उदास व खिन्न रहेगा। कुटुंबीजनों से विवाद होगा। मनोवांछित कार्य असफल हांगे।

मीन- इस राशि के जातकों को आर्थिक लाभ होगा। धन की प्राप्ति होगी। शत्रु पराजित होंगे। भाग्योदय होगा। मित्रों से लाभ होगा। मान-प्रतिष्ठा बढ़ेगी। पुत्र से लाभ होगा। मनोवांिचत कार्य सफल होंगे। यात्राएं लाभदायक होंगी।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here