मनोरोग चिकित्सकों ने बाल संप्रेक्षण गृह में किशोरों की काउंसलिंग कर दिखाया नेक मार्ग

0

बिलासपुर. राज्य मानसिक चिकित्सालय सेंदरी बिलासपुर की टीम अपने नए-नए प्रयासों से हमेशा चर्चा में रहती है। अब वह विधिक उल्लंघन करने वाले वाले किशोरों की काउंसलिंग कर उन्हें सही मार्ग देने का प्रयास कर रही है।

मनोरोग चिकित्सालय के डॉक्टरों की टीम शनिवार को बिलासपुर स्थित बाल संप्रेक्षण गृह पहुंची और वहां के किशोरों का मानसिक स्वास्थ्य परीक्षण कर उन्हें जीवन कौशल से संबंधित परामर्श दिया। राज्य मानसिक चिकित्सालय के चिकित्सा मनोवैज्ञानिक डॉ.दिनेश कुमार लहरी ने बताया बच्चों का जीवन चरित्र उनके माता पिता की सही देखरेख और आसपास के वातावरण पर निर्भर करता है।

बाल एवं किशोर न्यायलय में जो विधक उल्लंघन करने वाले किशोर आते हैं वह गलत वातावरण और देखरेख के चलते ही ऐसा कदम उठाते हैं। इसलिए वह लोग ऐसे किशोरों का मानसिक स्वास्थ्य परीक्षण करने के साथ ही उनके अपराध से पूर्व की स्थिति का भी परीक्षण करते हैं, ताकि वह उसका सही कारण जानकर उसे आगे सही राह दिखा सके व जीवन के लिए सही दिशा प्रदान कर सकें।

बाल संप्रेक्षण गृह के अधीक्षक राहुल पवार ने बताया राज्य मानसिक चिकित्सालय सेंदरी बिलासपुर द्वारा उनके यहां लगातार सेवा दी जा रही है। जिससे विधिक उल्लंघन करने वाले किशोरों के मानसिक स्वास्थ्य का परीक्षण कर उन्हें सही दिशा देने का प्रयास किया जा रहा है। इस तरह के प्रयासों से किशोरों को सही मार्ग पर लाया जा सकता है और उन्हें निश्चित रूप से इसका लाभ मिलेगा।

राज्य मानसिक चिकित्सालय के चिकित्साधीक्षक डॉ. बीआर नंदा ने बताया बच्चों को सही राह पर लाने के लिए सही देखरेख और मार्गदर्शन की नितांत आवश्यकता होती है। यदि उन्हें सही वातावरण और उचित मार्गदर्शन न मिले तो यह निश्चित रूप से उनके मानसिक स्वास्थ्य पर बुरा प्रभाव डालता है।

इसलिए समय रहते किशोरों की हर एक गतिविधि पर नजर रखना बहुत जरूरी है। इसके लिए माता पिता ही नहीं बल्कि परिवार के हर एक सदस्य को किशोरों के व्यवहारों में हो रहे निरंतर बदलावों पर नजर रखनी चाहिए। इससे यदि वह गलत मार्ग पर जाते हैं तो समय रहते उसका उपचार भी संभव है।

उन्होंने बतायाए उनके यहां से कम्युनिटी नर्स एंजिलीना वैभव लाल द्वारा विधिक उल्लंघन करने वाले किशोरों को लगातार परामर्श दिया जाता है। इसके साथ ही अस्पताल के मनोरोग चिकित्सक व अन्य विशेषज्ञ भी समय.समय पर परामर्श देने पहुंचते हैं।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here