कविता चौपाटी से के बीसवे अंक में कवियित्री पूर्णिमा की कविता का लोकार्पण

0

बिलासपुर. नगर की साहित्यिक संस्था कविता चौपाटी से के बैनर तले नेताजी सुभाष चन्द्र बोस जयंती के अवसर पर आयोजित बीसवे अंक के लोकार्पण कार्यक्रम में कवियित्री पूर्णिमा तिवारी की दो कविता का लोकार्पण किया।

कार्यक्रम के मुख्य अतिथि डॉ.भवानी शंकर नाथ, अधिकारी रेलवे सुरक्षा बल एवं विशिष्ठ अतिथि वरिष्ठ साहित्यकार राघवेन्द्र धर दीवान रहे और अध्यक्षता भाषाविद डॉ.विनय पाठक, पूर्व अध्यक्ष राजभाषा आयोग छत्तीसगढ़ ने की गुलदस्ता देकर अतिथियों के सम्मान के साथ कार्यक्रम की शुरुआत हुई।

प्रथम चरण में युवा शायर विपुल तिवारी एवं वरिष्ठ गीत कवि मनोहर दास मानिकपुरी ने कविता पढ़ी। सुभाष चंद्र बोस के जयंती पर विशेष कविता पाठ कर देश के सुप्रसिद्ध वीर रस के कवि देवेंद्र सिंह परिहार ने अपनी ओजपूर्ण कविताओं से समा बांधा।

इस मौके पर साहित्य के क्षेत्र में उत्कृष्ट योगदान के लिए युवा गीत कवि नितेश पाटकर एवं वीर रस के कवि देवेंद्र परिहार का सम्मान किया गया। लोकार्पण के बाद कवियित्री पूर्णिमा तिवारी ने अपने दो गीत ये प्रीत बावरी कैसी है एवं पूनम की रात में का सस्वर पाठ किया।

उद्बोधन सत्र के दौरान रेलवे सुरक्षा बल प्रमुख व मुख्य अतिथि डॉ.भवानी शंकर नाथ ने कहा कि कविता चौपाटी से शहर की सांस्कृतिक विरासत का उद्देश्य लिए कार्यरत है। संस्कारधानी की भूमि कविता की उर्वरा भूमि है, जहाँ जननायक कवि हुए हैं, जिनकी कविता ने हिंदी के वैश्विक पटल पर अपनी अमिट छाप छोड़ी है।

विशिष्ठ अतिथि राघवेन्द्र धर दीवान ने नेताजी सुभाष चन्द्र बोस के व्यक्तित्व पर अपनी बात रखते हुए युवाओं को अपनी जन्मभूमि के समर्पण के लिए उनसे प्रेरणा लेने की बात कही। कार्यक्रम के अध्यक्ष डॉ.विनय पाठक ने कहा कि कविता का संस्कार जीवन का संस्कार है जो मनुष्य के भीतर तब ही आता है जब वह ह्रदय से कविता को समझता है। हर मनुष्य हृदय से संवेदनशील होता है।

कविता चौपाटी से आम लोगों को साहित्य की धारा से जोड़कर उन्हें कविता का संस्कार देने की महत्वपूर्ण कड़ी है। इस मौके पर कार्यक्रम का संचालन व्यंग्यकार राजेन्द्र मौर्य एवं आभार प्रदर्शन विक्रम सिंह ने किया।

महेश श्रीवास, सनत तिवारी, केवल कृष्ण पाठक, एस विश्वनाथ राव, बसंत पाण्डेय, ऋतुराज, शैलेन्द्र गुप्ता, अजय शर्मा, द्वारिका वैष्णव, रामेश्वर गुप्ता, डॉ सुधाकर बिबे, बालमुकुन्द श्रीवास, आनंद प्रकाश गुप्ता, शिव शरण अमल श्रीवास्तव, पुष्पा श्रीवास, आरती राय, मधु मौर्य, कमलेश पाठक, धनेश्वरी सोनी, रश्मि गुप्ता, सुनीता वर्मा, प्रिंसी दुबे इत्यादि सम्माननीय सदस्यगण उपस्थित रहे।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here