ऑनलाइन धार्मिक प्रश्नोत्तरी एवं धन्य हमारे मुनिराज एवं तीर्थ का आयोजन

0

बिलासपुर. जैन समाज बिलासपुर द्वारा सांध्यकालीन कार्यक्रमों की श्रृंखला में पर्यूषण पर्व के आठवें दिन उत्तम त्याग के दिन जैन धर्म के पौराणिक कथाओं, आचार्यों, सतियों

तीर्थक्षेत्रों पर आधारित ज्ञानवर्धक धार्मिक प्रश्नोत्तरी का ऑनलाइन कार्यक्रम धन्य हमारे मुनिराज एवं तीर्थ का आयोजन किया गया।

कार्यक्रम के दौरान प्रश्नोत्तरी का संचालन अनुभूति जैन और परिणीति जैन ने किया। चार चरणों में आयोजित इस कार्यक्रम का पहला चरण धन्य हमारे मुनिराज था

जो कि जैन धर्म के पौराणिक आचार्यों, मुनियों और सतियों पर आधारित था।

दूसरे चरण में सभी को तीर्थ क्षेत्रों की वंदना करवाई गई। इस चरण में एक संकेत के माध्य्म से किसी जैन तीर्थक्षेत्र की तरफ इशारा किया था ।

तीसरे चरण सबसे स्मार्ट जैन में जैन धर्म के सिद्धांतों, नियमों, तीर्थंकरों से संबंधित सवालों के जवाब दर्शकों से पूछे गए।

प्रतियोगिता का आखिरी चरण जैन धर्म के मंगल पुराण पर आधारित था ।

पूरे कार्यक्रम के दौरान भारत से बाहर रहने वाले कई साधर्मी बंधु भी इस कार्यक्रम से ऑनलाइन जुड़े रहे।

कार्यक्रम के दौरान प्रतिदिन आयोजित होने वाली प्रतियोगिता आओ ज्ञान बढ़ायें के आठवें दिन के पुरस्कार विजेता की घोषणा की गई ।

इस प्रतियोगिता के विजेता रहे प्रियदर्शिनी नगर के मनन जैन बंगाली पारा सरकण्डा से इंदु जैन।

पर्यूषण पर्व के दौरान आयोजित डांसध्नृत्य प्रतियोगिता के परिणाम भी घोषित किए गए।

इस प्रतियोगिता के जूनियर वर्ग में मीहिका जैन प्रथम, अनुष्का जैन द्वितीय और श्रेयांशी जैन तृतीय स्थान प्राप्त किया।

सीनियर वर्ग में डॉ. श्रुति सुप्रीत जैन प्रथम, प्रिया गौरव जैन द्वितीय और जिया जैन तृतीय स्थान प्राप्त किया ।

कार्यक्रम में विशिष्ट अतिथि के रूप में बिलासपुर जैन समाज के संरक्षक प्रवीण जैन, आयकर आयुक्त डी. के. जैन, सोशल ग्रुप के अध्यक्ष कमल जैन,

समाज की महिला पार्षद निघि जैन ऑनलाइन मौजूद थे। इस तरह के आयोजन के लिए

आयोजन समिति के सदस्यों अनुभूति जैन, वर्षा जैन, अमित जैन, सुप्रीत जैन, दीपक जैन, संदीप जैन को बहुत-बहुत साधुवाद दिया गया।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here