मदर्स डे के पर एक मां ने बांटा जरूरतमंदों को सूखा राशन

कोई मां कहता है, कोई बहन कहता है, कोई फरिश्ता कहता है। पर वह अपने आप को एक मामूली इंसान मानती हैं और कहती है बाबा की दया है बाबा करवाते हैं मैं सेवा करती हूं। वह किसी नाम की मोहताज नहीं है आज सब उसे रेखा दीदी के नाम से जानते हैं।

सेवा एक नई पहल सदस्य रेखा आहूजा मदर्स डे के दिन भी सुबह से लेकर रात तक सेवा में लगी रही। किसे ऑक्सीजन सिलेंडर चाहिए। किसे हॉस्पिटल में बेड चाहिए किसे राशन चाहिए। जिसकी जैसे हेल्प चाहिए वह दिन रात कर रही है मदद के लिए हमेशा तैयार रहती हैं, जब फोन आ जाए और सेवा चालू हो जाती है।

कई जरूरतमंद बच्चों को मां को भाइयों को सुखा राशन अपने निवास स्थान पर दिया। कई लोगों ने कहा कि आप हमारे लिए फरिश्ता हैं, अभी तक किसी ने भी हमसे राशन के लिए नहीं पूछा और ना हमें दिया। भगवान आपका भला करें आपकी झोली हमेशा भरी रहे।

दीदी ने कहा करने वाला बाबा है मैं क्या हूं। को करवाता है में सेवा करती हूं। इस सेवा को नमन। इस सेवा में अरविंद अग्रवाल, संजना मखीजा, रेखा आहूजा, सतराम जेठमलानी, सुनील तोलानी, ट्विंकल आडवाणी अन्य सदस्यों का सहयोग रहा।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here