प्रदेश के यादव प्रमुखों की हुई बैठक में अनेक महत्पूर्ण निर्णय लिया गया

0

रायपुर. एक यादव एक समाज और एक संगठन को लेकर छत्तीसगढ़ प्रदेश के समस्त यादव प्रमुखों की बैठक विभिन्न स्थानों में लगातार हो रही है।

इसी परिप्रेक्ष्य में कल यादव प्रमुखों की बैठक रायपुर में आयोजित हुई। बैठक में उपस्थित यादव प्रमुखों ने एक मतेन एक यादव एक समाज और एक संगठन पर जोर देते हुए कुछ बिंदुओं पर महत्पूर्ण विचार विमर्श किया गया।

जिसमें 1 केंद्रीय समिति बनाने जो प्रदेश से लेकर तहसील स्तर तक होगा जिसमें सभी वर्ग प्रमुखों के साथ संगठन प्रमुख शामिल होंगे। 2 उपवर्गों में कुछ समाजिक भ्रांतियां और कमजोरियां है उसे दूर करने का प्रयास करना।

3 एक यादव एक समाज को चरितार्थ करते हुए रोटी बेटी को प्रोत्साहित करना। 4 शिक्षा और प्रतियोगी परीक्षाओं में बच्चों के सफलता हेतु उन्हें विभिन्न माध्यमों से सहयोग करना आदि बातों पर चर्चा के साथ ही यह भी बात हुई

कि राज्य सरकार से यह मांग करना है कि 1 प्रदेश के सभी गोठान समिति में यादव समाज का अनिवार्य रूप से प्रतिनिधित्व हो।

2 गावों के दईहानों में कब्जा हो गया है उसे मुक्त किया जाए और इसके लिए एक कड़ा कानून बनाया जाए ताकि कोई बेजाकब्जा न कर सके। 3 वन ग्रामों में वर्षों से निवासरत यादव परिवारों को स्थाई पट्टा दी जाए।

4 राज्य सरकार से मांग की जाए कि नया रायपुर में 10 एकड़ जमीन यादव समाज को दे ताकि यादव समाज प्रदेश स्तर का एक छात्रावास और भवन बनाए।

बैठक में यह निर्णय लिया गया कि आगामी जनवरी माह में क्रियान्यवयन बैठक अंबिकापुर में की जाए। यादव प्रमुखों की हुई बैठक में मुख्य रूप से संरक्षक डॉ सोमनाथ यादव पूर्व अध्यक्ष पिछड़ा वर्ग आयोग छत्तीसगढ़ शासन,

जगनीक यादव प्रदेश अध्यक्ष झेरिया यादव समाज, जनक राम यादव प्रदेश अध्यक्ष छत्तीसगढ़ यादव समाज, माधव यादव अध्यक्ष यादव महासंघ, भुनेश्वर यादव पूर्व अध्यक्ष जिला पंचायत बिलासपुर, निरंजन यादव महामंत्री प्रगतिशील यादव समाज,

रामचंद्रन यादव संरक्षक यादव समाज सरगुजा, सुनील यादव प्रदेश अध्यक्ष अठोरिया यादव समाज, सुंदर लाल यादव, कमल यादव , प्रीतम यादव, शशिकांत यादव रायपुर, डा प्रतीक यादव अध्यक्ष यादव समाज जांजगीर, जितेंद्र यादव संगठन महामंत्री बिलासपुर यादव समाज सहित अन्य समाज प्रमुख शामिल थे।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here