पुरुष नसबंदी पखवाड़ा में घर-घर जाकर पुरुषों को परिवार नियोजन के प्रति किया जा रहा जागरूक

0

बिलासपुर .स्वास्थ्य विभाग द्वारा 21 नवंबर से 4 दिसंबर तक पुरुष नसबंदी पखवाड़ा का आयोजन किया जा रहा है। बिलासपुर में इसके लिए एएनएम, मितानिन, आंगनबाड़ी कार्यकर्ता और मेल वर्कर की मदद लेकर पुरुषों को परिवार नियोजन के प्रति जागरूक करने का कार्य किया जाएगा।

जागरूकता का यह कार्यक्रम कोरोना वारियर्स के द्वारा सोशल डिस्टेंसिंग का पालन करते हुए किया जाएगा। इस दौरान लोगों को कोविड के बारे में जागरूक किया जाएगा।

बिलासपुर सीएमएचओ डॉ. प्रमोद महाजन के निर्देश पर विश्व पुरुष नसबंदी पखवाड़े को दो चरणों में मनाया जायेगा। डॉ. राजेश पटेल ने बतायाए प्रथम चरण में मोबिलाइजेशन सप्ताह मनाया जाएगा।

यह 21 से 27 नवंबर तक चलेगा। इसके बाद दूसरे चरण में 28 नवंबर से 4 दिसंबर तक सेवा वितरण सप्ताह मनाया जाएगा।

यह अभियान परिवार नियोजन में पुरुषों की भागीदारी, जीवन में लाए स्वास्थ्य और खुशहाली के नारे के साथ चलाया जाएगा।

पुरुष नसबंदी पखवाड़े की जानकारी देते हुए ज़िला चिकित्सा एवं स्वास्थ्य अधिकारी डॉ. प्रमोद महाजन ने बताया, पखवाड़े के माध्यम से पुरुष वर्ग को नसबंदी के बारे में जागरूक कर उसमें उनकी भागीदारी बढ़ाने के लिए प्रेरित किया जाएगा।

इस दौरान उन पुरुषों के नाम दर्ज किए जाएंगे जो कि पुरुष नसबंदी को लेकर इच्छुक हैं। ऐसे पुरूषों की लिस्ट बनने के बाद कैंप आयोजित कर पूर्ण सुरक्षा मानकों का पालन करते हुए उनकी नसबंदी की जाएगी।

डॉ. पटेल ने बताया कि शनिवार से योग्य दंपती संपर्क का प्रथम चरण शुरू कर दिया गया है। इसमें फील्ड के कर्मचारी योग्य दंपत्ति से चर्चा कर पुरुष नसबंदी के प्रति पुरुषों को प्रेरित करेंगे।

इसके साथ ही पुरुषों को कंडोम वितरित कर उसके बारे में बताया जाएगा। समस्त गतिविधियों को कोविड-19 संबंधित समस्त सावधानियां एवं सलाह को सुनिश्चित करते हुए मनाया जाएगा।

इस दौरान मुख्यतः शारीरिक दूरी, मास्क पहनने, संक्रमण की रोकथाम का पूर्णता पालन सुनिश्चित किया जाएगा ।

स्वास्थ्य केंद्र पर आयोजित होने वाली गतिविधियां

पुरुष नसबंदी पखवाड़े में केवल घर-घर ही नहीं सीएचसी, पीएचसी सहित स्वास्थ्य केंद्र पर पुरुष नसबंदी और उसके फायदे के बारे में जानकारी देने वाले पोस्टर बैनर लगाए जाएंगे।

पुरुष नसबंदी के तीन माह उपरांत जांच में शुक्राणु संख्या शून्य पाए जाने पर हितग्राही को प्रमाण पत्र प्रदान किया जाएगा।

वहीं फील्ड में कर्मचारियों द्वारा व्यक्तिगत चर्चा और पुरुष नसबंदी के फायदे हितग्राहियों को बताये जाऐंगे।

मोर मितान मोर संगवारी का आयोजन दिशा निर्देश के अनुसार किया जाएगा। प्रचार प्रसार के लिए डिजिटल माध्यम के प्रयोग को बल दिया जाएगा।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here