आगे बढ़ने अपने लक्ष्य को देखना जरूरी-ब्रह्माकुमारी मंजू दीदी

0
It is necessary to see your goal moving forward- Brahmakumari Manju Didi
आगे बढ़ने अपने लक्ष्य को देखना जरूरी-ब्रह्माकुमारी मंजू दीदी

बिलासपुर राजकिशोरनगर. प्रजापिता ब्रह्माकुमारी ईश्वरीय विश्व विद्यालय के राजकिशोर नगर के नवनिर्मित भवन शिव व.अनुराग भवन में आज नववर्ष स्नेह मिलन कार्यक्रम आयोजित हुआ।

परिवर्तन लाने के लिए 2021 में कुछ नया करने के लिए सभी को 21 सकारात्मक संकल्प दिए गए। जिसमें झूठ का सहारा न लेकर सत्यता के मार्ग पर चलना, तन व मन के लिए एक्सरसाइज करना, संतुष्टता का गुण धारण करना, रोज कुछ समय समाज सेवा में देना,

किसी भी बात पर तुरंत प्रतिक्रिया न करना, किसी भी परिस्थिति में सभी को दुआ देना, सदा मुस्कुराता चेहरा हो, ब्रह्ममुहूर्त में ध्यान, प्रतिदिन सत्संग करना आदि संकल्प शामिल थे।

इस अवसर पर उपस्थित सभा को संबोधित करते हुए टिकरापारा सेवाकेन्द्र प्रभारी ब्रह्माकुमारी मंजू दीदीजी ने कहा कि पहले तो हमें क्या करना है इसका लक्ष्य बनाएं व इसके पश्चात् अपने मन में उसका दृष्य बनाना चाहिए।

यदि हम उस दृष्य को बार.बार देखते हैं तो वह हमें जरूर प्राप्त होता है। सब का उद्वार करने के लिए उदारदिल बनने की व संगठन की मजबूती के लिए एकता व एकाग्रता की आवष्यकता है, एकता से ही हर कार्य में सफलता मिलती है,

और सहयोग शक्ति से विश्व में शांति की स्थापना होती है। टिकरापारा व राजकिशोर नगर सेवाकेन्द्र में सत्संग प्रारंभ जानकारी दी कि अभी तक सुबह व शाम का सत्संग लाइव किया जा रहा था लेकिन एक जनवरी से लाइव सेवाकेन्द्र पर सत्संग के लिए

राजकिषोरनगर व टिकरापारा सेवाकेन्द्र निष्चित व सीमित समय के लिए खोल दिया गया है। प्रातः व सायं 7 से 8.30 बजे का समय निर्धारित किया गया है। सभी भाई.बहनें जीवन में सुख.शांति की प्राप्ति, तनाव से मुक्ति राजयोग अनुभूति व आध्यात्मिक उन्नति के लिए सेवाकेन्द्र पधार सकते हैं।

सुरक्षा को ध्यान में रखते हुए सेवाकेन्द्र में बॉडी सेनिटाइजेशन की व्यवस्था तो है ही परन्तु दीदी जी ने सभी से अनुरोध किया है कि सभी घर से स्नान कर, सेनिटाइज़ कर व मास्क लगाकर ही सेवाकेन्द्र पधारें।
कार्यक्रम के अंत में सांस्कृतिक कार्यक्रम में दिव्या, गौरी व नीता बहन ने नए वष के गीतों पर अपनी प्रस्तुतियां दी। सभी को संकल्प.पत्र, नववर्ष का कैलेण्डर व प्रसाद वितरित किया गया।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here