संभाग स्तरीय कार्यशाला अंगना में शिक्षा संपन्न

0

बिलासपुर संभाग स्तरीय कार्यशाला अंगना में शिक्षा कार्यक्रम के सफल होने से प्रेरित बिलासपुर की बहुत सी महिला शिक्षिकाएं स्वेच्छा से आगे आकर अपने विद्यालय स्तर पर आंगनबाड़ी एवं कक्षा एक के बच्चों को घर पर रहकर पढ़ाने के लिए उनकी माताओं को प्रेरित करना प्रारंभ कर रही हैं ।

मस्तूरी विकासखंड के अंतर्गत शासकीय प्राथमिक शाला गतौरा में अलका राठौर ने अपने विद्यालय स्तर पर अंगना में शिक्षा कार्यक्रम का आयोजन किया। राज्य नोडल सावित्री सेन उपस्थित थी । कार्यक्रम की पूरी कार्यविधि को उन्होंने स्पष्ट किया तथा अपनी भावी योजना से सभी को अवगत कराया ।

बच्चों को कई प्रकार की गतिविधियों में शामिल करते हुए उनकी ऊंचाई, वजन बौद्धिक क्षमता, भाषा विकास, गणित पूर्व तैयारी तथा सामाजिक एवं सामुदायिक ज्ञान का आकलन कर उन्हें उनकी माताओं के सामने ही आवश्यक सुधार हेतु मार्गदर्शन दिया । अब एक माह के अंदर माताएं बच्चों को उनके स्तर के अनुरूप मौलिक ज्ञान सिखाएंगी तथा फिर से बच्चों का आकलन किया जाएगा ।

इन सभी आकलनों को प्रत्येक विद्यार्थी के लिए बनाए गए सपोर्ट कार्ड में अंकित किया गया है। जिसमें उनकी माता के ही हस्ताक्षर मान्य है अर्थात माताओं द्वारा स्वयं से अपने बच्चों का आकलन लिया जा रहा है। जब यह बच्चे वापस अपने विद्यालयों में आएंगे तब यह सपोर्ट कार्ड उनके 1 वर्ष की ज्ञान का प्रगति पत्रक होगा ।

अर्थात माताएं अपने छोटे बच्चों के साथ घर पर रहकर ही उन्हें इस कोरोना काल में शिक्षा प्रदान करने का प्रयास करें। सफल योजना का शुभारंभ स्वप्रेरित महिला शिक्षिकाओं के द्वारा किया जाना स्वयं में बहुत ही बड़ी उपलब्धि है। इस पूरी कार्यशाला के दौरान विद्यालय ने अपने विषम परिस्थितियों में साथ देने वाले शिक्षा सारथियों को भी सम्मानित किया ।

इस उपलक्ष्य स्कूल के बच्चों के द्वारा माताओं के मनोरंजन के लिए नृत्य की प्रस्तुति दी। इस अवसर पर देवीप्रसाद कुर्रे जनपत सदस्य, आरती कश्यप, मधु कमीनी सोनी, प्रेमलता खोलखे, विनारानी राठौर, संगीता पटेल, सुभाष राठौर उपस्थित रहे।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here