गुरुमत कैंप के समापन पर बच्चों ने गाई गुरू तेग बहादुर जी की गाथा

0

श्री गुरु सिंह सभा बिलासपुर में श्री गुरु तेग बहादुर जी के 400 साल प्रकाश पर्व के उपलक्ष में पंजाबी सेवा समिति की तरफ से दिनांक 15 मार्च से एक विशेष कैंप का आयोजन हुआ जिसमें विशेष रूप से पंजाब से आए हुए कथा वाचक मनप्रीत सिंह जी ने सुबह शाम गुरुद्वारा के दीवान में इतिहास की जानकारी दी ।

इसके साथ ही एक हफ्ते से बच्चों को गुर तेग बहादुर जी की कथाएं, गुरबाणी कंठ एवम कथाविचार कर अपने विचारों की सांझ डाली जिसमें 100 से अधिक बच्चों ने और बड़ों ने हिस्सा लिया । इस कैंप का समापन बड़ी ही श्रद्धा पूर्ण हुआ । सुबह के दीवान में बच्चों ने इतिहास बताया गुरबाणी का पाठ किया और जाप हुआ साथ ही शाम के दीवान में भी बच्चों के साथ.साथ बड़ों ने भी अपना सहयोग दिया ।गुरु तेग बहादुर जी जो की हिंद की चादर के नाम से जाने जाते हैं उनका इतिहास साध संगत तक पहुंचाया गया ।

दोनों ही दीवानों में समाप्ति उपरांत लंगर सेवा की व्यवस्था की गई एवं बच्चों एवं बड़ों को उचित इनाम एवं प्रमाण पत्र देकर कैंप की संपूर्णता की गई। इस कार्यक्रम को सफल बनाने हेतु पंजाबी सेवा समिति के अध्यक्ष अमोलक सिंह सलूजा, हरमिंदर सिंह गांधी, मनजीत सिंह गंभीर, नरेंद्र पाल सिंह होरा, परमजीत सिंह खनूजा, मनदीप सिंह गंभीर, जगदीप सिंह मक्कड़, गुरचरण सिंह राजपाल, अमनदीप सिंह होरा, गुरभेज सिंह चावला,

श्री गुरूतेग बहादुर साहिब जी के 400वे प्रकाश पर्व की तैयारी को अंतिम रूप देने सिक्ख समाज छत्तीसगढ़ के सभी कमेटी के साथ हुई बैठक

सतिंदर सिंह गांधी, अजीत सिंह सलूजा, रोमिंदर सिंह अजमानी, अमोलक सिंह राजपाल, प्रीतम सिंह इचपुरानी, रणवीर सिंह अरोरा एवं सभी सदस्यों का पूर्ण रुप से सहयोग रहा है। साथ ही गुरुद्वारा प्रबंधक कमेटी के सदस्य से त्रिलोचन सिंह अरोरा, अमोलक सिंह टुटेजा, महेंद्र सिंह गंभीर परमजीत सिंह सलूजा तविंदर पाल सिंह अरोरा अमरजीत सिंह दुआ एवं हेड ग्रंथि भाई मान सिंह जी ने पूरा अपना सहयोग दिया।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here