ब्राम्हण युवा आयाम ने आयोजित की वर्चुअल परिचर्चा

सामाजिक संगठन ब्राह्मण युवा आयाम द्वारा वर्चुअल परिचर्चा आयोजित किया गया। जिसमें देश में ऑक्सीजन की कमी एवं कोरोना से बचाव के बारे में चर्चा की गई। इस परिचर्चा में रायपुर, जांजगीर चाम्पा, बेमेतरा, बलरामपुर आदि जगहों से ब्राह्मण युवा आयाम के पदाधिकारी भाग लिए रजत शर्मा ने बताया की नियमित योग व्यायाम करते रहने से कोरोना होने पर भी इम्युनिटी बनी रहती है जो हमारी रक्षा करती है।

प्रांसु शर्मा ने बताया की वो ऑक्सीजन की कमी ना हो जिसके लिए वृहद् रूप से वृक्षारोपण के लिए पौधे तैयार कर रहे है। नवीन पाठक ने कहा कि कोरोना से बचाओ और ऑक्सीजन की कमी भविष्य में ना हो, जिसके लिए वृक्षो की कटाई को रोकना होगा और वृक्षारोपण करना होगा। रूपाली पाण्डेय ने कहा की जब भी हम वृक्षारोपण करे तो केवल वृक्षारोपण करके भूल ना जाये। बल्कि आगे भी उस वृक्ष की देखभाल करे जिससे वो वृक्ष जीवित रहकर तैयार हो सके।

उज्जवल तिवारी ने भी कहा कि वृक्षों की अवैध कटाई पर अंकुश लगाया होगा। श्वेता पाण्डेय ने कहा की अपने घर से ही जनजागरूकता की सुरुवात करनी होगी। कोमल कुमार शर्मा ने कहा कि युवाओ को जागरूक करेंगे तभी पर्यावरण संरक्षित होगा। अल्का तिवारी ने बताया कि कोरोना की सही जानकारी ही उससे बचाव है।

समिति के राकेश शर्मा, केशव शुक्ला, अलोक जोशी, आदित्य चौबे और जया तिवारी ने भी वृक्षारोपण पर जोर दिए और अवैध कटाई रोकने के सुझाव दिए। ब्राह्मण युवा आयाम के संस्थापक एवं अध्यक्ष ज्योतिन्द्र उपाध्याय ने कहा कि कोरोना को हराने के लिए हमें सकारात्मक सोंच रखना होगा।

हमें नकारात्मक बातो को किसी भी सोसल मीडिया में पोस्ट करने से बचना है और अधिक से अधिक सकारात्मक बातो को पोस्ट करना है और ऑक्सीजन के कमी का मुख्य कारण है विकास के नाम पर पर्यावरण का विनाश जो किया जा रहा है। पेड़ों की अंधाधुन कटाई हो रही है उसके एवज में वृक्षारोपण के नाम पर केवल खाना पूर्ति की जा रही है। ब्राह्मण युवा आयाम हमेशा पर्यावरण को बचाने का प्रयास कर रहा है और आगे भी करेगा।

इसी प्रकार सभी पदाधिकारियो और सदस्यो ने अपने विचार रखे इस दौरान इस वर्चुअल परिचर्चा में मुख्य रूप से रविन्द्र उपाध्याय, ज्योतिन्द्र उपाध्याय, नविन पाठक, रजत शर्मा, प्रांशु शर्मा, कोमल कुमार शर्मा, राकेश शर्मा, केशव शुक्ला, अलोक जोशी, उज्जवल तिवारी, आदित्य चौबे, आकाश तिवारी, आशीष तिवारी, डॉ.वीणा तिवारी, श्वेता पाण्डेय, रूपाली पाण्डेय, अल्का तिवारी, जया तिवारी सहित पदाधिकारी एवं कार्यकर्त्ता गण शामिल हुए।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here