आंवला खाना अमृत से कम नही, जाने इसके बारे में

0

आंवले का इस्तेमाल सिर्फ खाने के लिए नहीं बल्कि पूजा के लिए भी इस्तेमाल होता है। आंवला को औषधि फल के तौर पर भी जाना जाता है। यह खाना बहुत महत्वपूर्ण होता है। क्योंकि यह एक वंडर फूड है।

छोटे से आंवला में चमत्कारिक गुण है। शरीर के लिए बेहत गुणकारी है। आंवला में विटामिन सी, विटामिन एबी काॅम्पलेक्स, पोटेशियम, कैलशियम, मैग्नीशियम, आयरन, कार्बोहाइड्रेट, फाइबर और डाययूरेटिक एसिड पाए जाते है। इस लेख के माध्यम से हम आंवला के विषय में विस्तार से बताएंगे।

आंवले की खूबियां इतनी ज्यादा है कि इसी वह से आंवला को 100 रोगों की एक दवा माना जाता है। आयुर्वेद में तो आंवला को अमृत की तरह माना जाता है।

कई तरह के घरेलू नुस्खों में आंवले का इस्तेमाल किया जाता है। आंवले की खूबियां इतनी ज्यादा है कि इसी वह से आंवला को 100 रोगों की एक दवा माना जाता है। आयुर्वेद में तो आंवला को अमृत की तरह माना जाता है।

कई तरह के घरेलू नुस्खों में आंवले का इस्तेमाल किया जाता है। कई बीमारियों को जड़ से करता है खत्म आंवला शरीर की इम्यूनिटी बढ़ाता है साथ ही साथ आंवला कई बीमारियों

को जड़ से भी खत्म करता है। आंवला डायबिटीज में फायदेमंद है। आंवला डायबिटीज से परेशान लोगों के लिए किसी अमृत से कम नहीं है। आंवला में क्रोमियम तत्व पाए जाते है।

जो इंसुलिन हारमोंस को मजबूत कर खून में शुगर लेवल को कंट्रोल करते है। अगर आपको डायबिटीज है तो आंवले के रस में शहद मिलाकर पीने से बहुत आराम मिलेगा।

दिल के सेहत के लिए अच्छा

आंवला दिल की सेहत के लिए भी फायदेमंद है। आंवला में मौजूद क्रोमियम बीटा ब्लाॅकर के प्रभाव को कम करता है। इससे आपका दिल मजबूत और हेल्दी बनता है।

यही नहीं आंवला खराब काॅलेस्ट्रोल को खत्म कर अच्छे काॅलेस्ट्रोल को बनाने में मदद करता है।

पाचन तंत्र को करता है मजबूत

आंवला डायजेशन यानी पाचन तंत्र को मजबूत बनाने में मददगार है। खाने को पचाने में आंवला बहुत मददगार है। इसे खाने से कब्ज, खट्टी डकार और गैस की समस्या से मुक्ति मिलती है।

यही वजह है कि आंवला को किसी न किसी रूप में आपको अपने भोजन में शामिल करना चाहिए। आंवले की चटनी, मुरब्बा, अचार, जूस या चूरन के रूप में भी इसे अपनी डाइट का हिस्सा बना सकते है।

वजन घटाने में मददगार

आंवला शरीर का वजन घटाने में भी मददगार साबित होता है। आंवला शरीर के मेटाबाॅलिज्म को मजबूत बनाता है। जिससे वनज कम करने में मदद मिलती है।

बैक्टीरिया व फंगल इंफेक्शन से लड़ने की देता है ताकत

आंवला में बैक्टीरिया और फंगल इंफेक्शन से लड़ने की ताकत होती है। इसे खाने से हमारे शरीर की इम्यूनिटी बढ़ती है। जिससे हम बीमारियों से दूर रहते है। यही नहीं आंवला शरीर में मौजूद टाॅक्सिन यानी जहरिले पदार्थो को बाहर निकाल देता है।

आंवला खाने से सर्दी-जुकाम, अल्सर व पेट के इंफेक्शन से मुक्ति मिलती है। इतना ही नहीं आंवला खाने से हड्डियों को ताकत मिलती है।

वे मजबूत बनती है। आंवले में भरपूर मात्रा में कैल्शियम होता है और इसे खाने से आॅस्ट्रोपोरोसिस, अर्थराइटिस और जोड़ों के दर्द से आराम मिलता है।

आंख की रोशनी बढ़ाती है

आंवला का रस आंखों के लिए गुणकारी है। यह आंखों की रोशनी बढ़ाता है। यही नहीं जिन्हें मोतियाबिंद, कलर ब्लाइंडनेस या कम दिखाई देता है। उन्हें आंवले का रस पीना चाहिए।

आंवला में ऐसे तत्व मौजूद होते है जो दिमाग को ठंडक प्रदान करते है। आंवला खाने से टेंशन में आराम मिलता है। नींद भी अच्छी आती है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here