घर.घर जाकर 19 साल तक के बच्चे व युवाओं को खिलाई गई एल्बेंडाजॉल दवा

0

बिलासपुर. बिलासपुर सहित राज्य के सभी जिलों में 23 सितंबर से 28 सितंबर तक एनडीडी यानि राष्ट्रीय कृमी मुक्ति दिवस कार्यक्रम चलाया जाना था परन्तु संपूर्ण

लॉकडाउन के चलते स्वास्थ्य विभाग ने इस अभियान को अब अक्टूबर माह के पहले सप्ताह तक चलाने का निर्णय लिया है। स्वास्थ विभाग के जिला टीकाकरण अधिकारी डॉ मनोज सैमुअल ने बताया एनडीडी हर साल स्वास्थ्य विभाग द्वारा चलाया जाता है।

इसके तहत बच्चों के शरीर से कृमि खत्म करने के लिए उन्हें एल्बेंडाजॉल की दवा तीन रूप में खिलाई जाती है। इसमें 1.2 वर्ष के बच्चों को आधी गोली पीस करए 2.3 वर्ष के बच्चों को एक गोली पीसकर और 4-19 वर्ष के बच्चों को चबाकर खाने के लिए एक गोली दी जाती है।

यह प्रोग्राम बिलासपुर के शहरी क्षेत्र सहित सभी ब्लॉकों के ग्रामीण क्षेत्रों में एएनएम के मार्गदर्शन में आंगनबाड़ी कार्यकर्ता व मितानिनों के माध्यम से चलाया जा रहा है। डॉ सैम्युअल ने बताया सीएमएचओ डॉ प्रमोद महाजन ने जिले में एल्बेंडाजॉल की दवा खिलाने का टार्गेट दिया है।

इसके तहत घर.घर जाकर और फिर केंद्र में दवा खिलाने का कार्य किया जा रहा है। उन्होंने कहा यह कृमि नाषक दवा मुख्यमंत्री की महत्वकांक्षी योजना कुपोषण सुपोषण को भी साकार करती है।

इस दवा को खाने से बच्चों के पेट में पैदा होने वाले कृमि मर जाते हैं और शरीर का सही तरीके से पोषण मिलता है जिससे पूर्ण विकास होता है। उन्होंने सभी लोगों से अपील की है कि वह अपने.अपने बच्चों को यह दवा जरूर खिलाएं।

दवा नहीं है कोई साइड इफेक्ट

डॉ मनोज सैम्युअल ने बताया इस दवा को खाने से किसी प्रकार का कोई साइड इफेक्ट नहीं होता है। उन्होंने दिए गए टार्गेट के अनुसार बच्चों को दवा खिला दी है।

शेष बचे हुए को समय के अंदर दवा खिलाने का कार्य पूरा कर लिया जाएगा। दवा खिलाने के कार्य में लगे कार्यकर्ताओं को कोविड.19 की गाइड लाइन के अनुसार ही कार्य संपादित

करने के लिए कहा गया है। इससे सभी कार्यकर्ता शोसल डिस्टेंसिंग का पालन करते हुए मास्क लगाकर हैंड सेनेटाइड करने के बाद ही बच्चों को दवा दे रहे हैं।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here