बिलासपुर जिले के 1111 आंगनबाड़ी केंद्रों में बनेगी पोषण वाटिका

0

बिलासपुर. इस साल पोषण अभियान के तहत छत्तीसगढ़ शासन ने नरवा ,गरुवा, बाड़ी योजना को प्रोत्साहन देते हुए आंगनबाड़ी केंद्रों में बाड़ी बनाने योजना बनाई है।

इस योजना में अकेले बिलासपुर जिला अंतर्गत 1,111 आंगनवाड़ी केंद्रों के लिये पोषण वाटिका स्थापित की जायेगी। इसके बारे में उपायुक्त बिलासपुर ने महिला एवं बाल विकास विभाग की बैठक में घोषणा की थी ।

जिले के महिला एवं बाल विकास अधिकरी सुरेश सिंह ने बताया उन्हें इस बारे में निर्देश दिए गए हैं। वह जल्द ही सभी खंड विकास अधिकारियों की बैठक करेंगे और आंगनबाड़ी

केंद्रों में संचालित की जाने वाली पोषण-वाटिका स्थापित किए जाने की कार्ययोजना तैयार करेंगे। उन्होंने बताया पोषण वाटिका बनाने में आंगनवाड़ी कार्यकर्ता, सहायिका एव

आंगनवाड़ी केंद्र के बच्चों के माता पिता भी अपना योगदान सुनिश्चित करेंगे। इससे बच्चों को सब्जी फल तथा हरी पत्तेदार सब्जियां उपलब्ध हो सकेंगी।

महिला एवं बाल विकास अधिकारी सुरेश सिंह ने बताया उन्हें संबधित खंड विकास अधिकारियों के साथ बैठक कर पोषण वाटिका योजना का प्रस्ताव तैयार करके 25 सितंबर तक तक जिला कार्यक्रम अधिकारी को भेजना है।

उन्होंने बताया पोषण वाटिका योजना में कृषि बागवानी, कृषि वज्ञान केंद्र व पशुपालन विभाग को भी जोड़ा जाएगा।

इससे बच्चों को फल सब्जियां, अंडे तथा दूध जैसे पोषक आहार की जानकारी के साथ ही पोषण वाटिका से उसे उपलब्ध कराया जा सकेगा।

चलेगा पौधा रोपण अभियान

पोषण माह के इस वर्ष का विषय कुपोषित बचों की पहचान और उनकी देखभाल करना एवं पोषण वाटिका को बढ़ावा देना है। इसके लिये पौधा रोपण का अभियान चलाया जाएगा।

इसके अंतर्गत अभी बच्चों की आंगनवाड़ी केंद्रों मे वृद्धि जांच की जा रही है औरगांव स्तर पर सामूहिक सहभागिता एवं विभिन विभागों के समन्वय के साथ सभी आंगनवाड़ी केंद्रों

के लिये पोषण वाटिका को स्थापित करने का कार्य किया जाएगा। जिन आंगनवाड़ी केन्द्रों के पास जगह उपलब्ध नहीं है उन्हें पंचवटी योजना के साथ जोड़ा जाएगा।

इस तरह करके सभी 1111 आंगनवाड़ी केन्द्रों में पोषण वाटिका स्थापित की जा सकेगी।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here